भाषा की सहूलियत बरतने से क्या अभिप्राय है? Baasha kee sahooliyat baratane se kya abhipraay hai?

सवाल: भाषा की सहूलियत बरतने से क्या अभिप्राय है?

भाषा की सहूलियत बरतने से अभिप्राय है की भाषा का उचित प्रयोग करना चाहिए। माशा की सहूलियत बरतनी से अभिप्राय सीधी सरल सहज भाषा के प्रयोग से हैं जिससे श्रोता शब्दों के बवंडर में न फंसकर शब्दों के उचित अर्थ को समझ। कई बार हम ऐसे शब्दों का प्रयोग करते हैं या पर्यायवाची शब्दों का प्रयोग कर दुविधा में फस जाते हैं। जिससे अर्थ का अनर्थ हो जाता है, और भाषा जटिल हो जाती है।

0 Komentar

Post a Comment

चलो बातचीत शुरू करते हैं 📚

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Latest Post

Recent Posts Widget