दादी माँ का व्यक्तित्व कैसा था? Daadee maan ka vyaktitv kaisa tha?

सवाल: दादी माँ का व्यक्तित्व कैसा था?

दादी मां कहानी के लेखक शिवप्रसाद जी के अनुसार दादी मां का व्यक्तित्व ममता पूर्ण औ स्नेह पुर्ण था। वह परिवार एवं ग्राम के प्रत्येक लोगों के प्रति अपने लगाव एवं स्नेह रखते थे। और ग्राम के प्रत्येक लोग उनका सम्मान करते थे। दादी मां दुबली पतली थी। कई बार ऐसी परिस्थिति आई है, कि उन्होंने अपने परिवार एवं गांव की मुसीबतों के लिए हम बलिदान दिए। जैसे कि लेखक के पिता पूर्ण रूप से आर्थिक स्थिति खराब हो गई, तो दादी मां ने सोने का कंगन जो कि दादाजी ने दादी मां को दिया था, दादी मां ने उसे गिरवी रखवा दिया था। और एक बार जब रामी चाची को दिया कर्ज समय पर ना आने पर भी उसे कर्जे को भुलना पड़ा।


0 Komentar

Post a Comment

चलो बातचीत शुरू करते हैं 📚

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Latest Post

Recent Posts Widget