हीनयान से आप क्या समझते हैं? Heenayaan se aap kya samajhate hain?

सवाल: हीनयान से आप क्या समझते हैं?

हीनयान को थेरवाद,स्थिरवाद भी कहते हैं। बौद्ध धर्म कि दो शाखाऐ थी, जिनका नाम था "हीनयान" और "महायान"। हीनयान का मतलब था, निम्न मार्ग इस यान के लोग अपने धर्म में कोई परिवर्तन नहीं चाहते थे। और यह लोग बौद्ध को एक भगवान के रूप में नहीं लेकर यह एक महापुरुष के रूप में लेते थे। हीनयान संप्रदाय श्रीलंका,बर्मा, जावा आदि देशों मे फैला हुआ है। हीनयान संप्रदाय के लोगों की साधना अत्यंत कठोर है हीनयान में भिक्षु आते थे।


0 Komentar

Post a Comment

चलो बातचीत शुरू करते हैं 📚

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Latest Post

Recent Posts Widget