मेरी नैया में लक्ष्मण राम गंगा मैया धीरे बहो? Meri naiya mein lakshman ram ganga maiya dheere baho?

सवाल: मेरी नैया में लक्ष्मण राम गंगा मैया धीरे बहो?

"मेरी नैया में लक्ष्मण राम गंगा मैया धीरे बहो" यह संवाद या भजन गीत रामायण से हैं। जब भगवान श्री राम लक्ष्मण और माता सीता तीनों जब अयोध्या छोड़कर वनवास गए थे ,तब वह एक कोवेट की मदद से गंगा पार कर रहे थे; तब काया मधुर गीत है। जिसमें की राम लक्ष्मण और सीता तीनों मां गंगा नदी अपना बहाव कम करने को कह रही है, जिससे कि वह गंगा नदी को पार कर दूसरी ओर जा सके एवं वनवास को प्रारम्भ कर सकें।

0 Komentar

Post a Comment

चलो बातचीत शुरू करते हैं 📚

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Latest Post

Recent Posts Widget