रूपक अलंकार को समझाइए? Roopak alankaar ko samajhaie?

सवाल: रूपक अलंकार को समझाइए?

रूपक अलंकार उस अलंकार को कहते हैं, जिसमें गुण के समानता के कारण उपमेय को ही उपमान बता दिया जाता है, तथा उपमेय और उपमान में कोई भी अंतर न होना ही रूपक अलंकार होता है। उदाहरण: पायो जी मैंने राम रतन धन पायो। इस उदाहरण में राम रतन को उपमेय का धन बता दिया है, जिसमें कि राम रतन उठने पर उपमान का आरोप लगता है, इसलिए यह दोनों में समानता हैं।

0 Komentar

Post a Comment

चलो बातचीत शुरू करते हैं 📚

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Latest Post

Recent Posts Widget