कार्य ऊर्जा प्रमेय लिखिए? kaary oorja pramey likhie?

सवाल: कार्य ऊर्जा प्रमेय लिखिए? 

किसी वस्तु पर बाहृ बल लगाने पर उसकी गतिज ऊर्जा में जो परिवर्तन आता है, वह किए गए कार्य के बराबर होता हैं आप इसे इस तरह लिख सकते हैं। कार्य समानुपाती है, गतिज ऊर्जा के W=∆k जहां w बराबर कार्य और k बराबर गतिज ऊर्जा है, और कार्य बराबर ,बल×बल की दिशा में किया गया विस्थापन W=F×S, अगर किसी वस्तु पर बल लगाया जाता है। और उसमें अगर कोई विस्थापन नहीं है, तो किया गया कार्य शुन्य होगा।और गतिज ऊर्जा 1/2×m×v की घात 2, कार्य और ऊर्जा में यह सम्बन्ध कार्य‌ ऊर्जा प्रमेय कहलाता है।

0 Komentar

Post a Comment

चलो बातचीत शुरू करते हैं 📚

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Latest Post

Recent Posts Widget