मरजादा न लही’ के माध्यम से कौन-सी मर्यादा न रहने की बात की जा रही है? 'Marjada na lahi’ ke madhyam se kaun-si maryada na rahane kee baat kee ja rahee hai?


सवाल: मरजादा न लही’ के माध्यम से कौन-सी मर्यादा न रहने की बात की जा रही है? 

(1).प्रेम की मर्यादा ना रहने की बात. 
(2). शर्म की मर्यादा ना रहने की बात 
(3). सम्मान की मर्यादा ना रहने की बात 
(4). धैर्य की मर्यादा ना रहने की बात 

सही उत्तर (1) प्रेम की मर्यादा ना रहने की है। 'मरजादा ना लही' के माध्यम से प्रेम की मर्यादा न रहने की बात की है। जब भगवान श्री कृष्ण मथुरा चले जाए तब गोपिया उनके वियोग में पूरी तरह से जल रही थी।

0 Komentar

Post a Comment

चलो बातचीत शुरू करते हैं 📚

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Latest Post

Recent Posts Widget